Yeh Kaali Kaali Aankhen Web Series Review In Hindi

Yeh Kaali Kaali Aankhen Web Series Review In Hindi : कोरोना के नये वेरिएंट ओमिक्रोन का संक्रमण देश मे तेजी से फैलता जा रहा है जिस कारण लोग एक बार फिर सिनेमाघरों को किनारे करके ओटीटी पे कंटेंट देखना पसंद कर रहे है ऐसे मे सभी ओटीटी प्लेटफॉर्म अपने ग्राहक बढ़ाने के लिए बढ़िया से बढ़िया कंटेंट लाने की कोशिश कर रहे है और इस कोशिश मे कहे तो Netflix सबसे आगे है, बता दे की नेटफ्लिक्स ने आज एक नया शो Yeh Kaali Kaali Aankhen रिलीज़ किया गया है | जिसका निर्देशन 'बालिका बधू' और  'अपहरण' जैसे लोकप्रिय शो बनाने वाले सिधार्थ सेनगुप्ता ने किया है | इस सीरीज मे आपको लव के साथ क्राइम का ऐसा अनोखा कॉकटेल देखने मिलेगा जिसे शायद ही आपने कभी चखा होगा | सीरीज के किरदारों की बात करे तो इसमे ताहिर राज भासिन, मिर्जापुर की गोलू गुप्ता यानी की श्वेता त्रिपाठी और आंचल सिंह मुख्य किरदारों मे है , यह काली काली आँखें Romantic Web Series होने के साथ साथ एक Psycological Thriller Web Series भी है जो आपके इंट्रेस्ट को आखिर तक बनाये रखने की पूरी कोशिश करती है |


Yeh Kaali Kaali Aankhen Web Series Story In Hindi | क्या है 'ये काली काली आँखे' वेबसीरीज की कहानी


ये काली काली आँखें सीरीज की कहानी विक्रांत नाम के एक लड़के की है जिसे अपने ही कॉलेज की एक हसीना शिखा से प्यार हो जाता है और शिखा भी विक्रांत से प्यार करने लगती है लेकिन जैसे ही दोनों के प्यार की गाड़ी आगे बढ़ती है तभी इनकी लाइफ मे पूर्वा नाम की एक दूसरी लड़की की धमाकेदार एंट्री होती है जो अपने साथ कई सारे ट्विस्ट लेकर आती है दरअसल पूर्वा शहर के बाहुबली राजनेता अखिराज अवस्थी की बेटी है जो विक्रांत को किसी भी हालत मे अपना बनाना चाहती है वो भी सिर्फ अपनी सनक को पूरा करने के लिए और विक्रांत इसके लिए बिल्कुल भी तैयार नही होता क्योंकि वो शिखा से सच्चा प्यार करता है, अब सीरीज मे देखना ये होगा की विक्रांत बाहुबली नेता अखिराज के डर से उसकी बेटी पूर्वा का डिजायर पूरा करने के लिए उसे अपनाता है या वो अपने प्यार शिखा के लिए सबसे लड़ जाता है |


Yeh Kaali Kaali Aankhen Web Series Review In Hindi


सीरीज की कहानी और राइटिंग एकदम शार्प है जो आपको अंतिम तक उलझाए रखेगी इसके अलावा सीरीज मे बहुत सारे ट्विस्ट आते है जो इसका मजा दुगना कर देते है बैकग्राउंड स्कोर पूरी तरह से थ्रिल और सस्पेंस से भरा है जिसे सुनने के बाद आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे सीरीज मे ताहिर भासिन ने विक्रांत के रूप मे लाजवाब प्रदर्शन किया है जिसे देखने के बाद ये कहना बिल्कुल भी गलत नही होगा की ये सीरीज ताहिर के कैरियर का टर्निंग पॉइंट बन सकती है इसके अलावा श्वेता त्रिपाठी अपने पुराने अंदाज मे लोगों का दिल जीत रही है | आँचल सिंह की बात करे तो इन्होंने पूर्वा के चालाक किरदार मे जान फूकने की पूरी कोशिश की है लेकिन कही कहीं उनकी एक्टिंग ओवर एक्टिंग मे बदल जाती है जो इसका पूरा मजा खराब करती है | एक लाइन मे कहे तो सीरीज काफी इंट्रेस्टिंग है जिसे आप टाइम पास के रूप मे एक बार देख सकते है |

Click Here For - Web Story


Tags

Top Post Ad

Below Post Ad